About दैनिक जागरण

भारत का सबसे ज्यादा पढ़ा जाने वाला समाचार पत्र, दैनिक जागरण, अब लाया है देश भर की लेटेस्ट हिंदी खबरें आपके मोबाइल में हिंदी न्यूज़ ऐप पर. इस हिंदी न्यूज़ ऐप से आप राजनीति, राष्ट्र, खेल, मनोरंजन, व्यापार व राज्य की सभी लेटेस्ट ट्रेंडिंग खबरों के साथ-साथ पाएंगे अपने शहर की स्थानीय खबरें भी…

पाइए अलग-अलग कैटेगरी से ताजा खबरें और ब्रेकिंग न्यूज़ अलर्ट, जैसे – राष्ट्रीय समाचार, दुनिया, मनोरंजन, खेल समाचार, टेक्नोलॉजी न्यूज़, राज्य समाचार (खबरें सभी महत्वपूर्ण बड़े राज्यों से) जैसे उत्तर प्रदेश समाचार, बिहार समाचार, दिल्ली-एनसीआर समाचार, पंजाब समाचार, उत्तराखंड समाचार आदि.दैनिक जागरण

हिंदी और अंग्रेजी खबरों के लिए आपका एकमात्र विश्वसनीय मोबाइल न्यूज़ ऐप अब आपकी जेब में.

राजनीतिक समाचार:
पाइए राष्ट्रीय और राज्य स्तर की राजनीति की लेटेस्ट खबरें पूर्ण विश्लेषण के साथ. चाहें वो 2015 के बिहार चुनाव की कवरेज हो या पश्चिम बंगाल, असम, तमिलनाडु, केरल और पुड्डुचेरी के 2016 विधानसभा चुनावों की तैयारी, आप रहेंगे सभी लेटेस्ट चुनावी खबरों से अपडेट.

स्थानीय समाचार (खबरें आपके अपने राज्य और शहर से):
पाइए भारत के लगभग सभी राज्यों और उनके सभी बड़े शहरों की लेटेस्ट ट्रेंडिंग खबरें हिंदी में. मुख्य बड़े राज्यों एवं शहरों की हर छोटी-बड़ी खबरों के लिए उत्तर प्रदेश समाचार, बिहार समाचार, दिल्ली-एनसीआर समाचार, पंजाब समाचार, हरियाणा समाचार, उत्तराखंड समाचार के साथ अन्य राज्यों की भी लेटेस्ट खबरें.दैनिक जागरण

मनोरंजन समाचार:
पाइए बॉलीवुड और इंडियन टीवी की दुनिया की सभी लेटेस्ट खबरें और ट्रेंडिंग गॉसिप. बॉलीवुड की लेटेस्ट अफवाहों के साथ पाइए टीवी सीरियल्स और डेली सोप के गॉसिप आपके मोबाइल में. सिर्फ इतना ही नहीं…एक्सपर्ट मूवी रिव्यूज़, ट्रेलर, बॉलीवुड मिर्च-मसाला, हॉट फोटोगैलरी के साथ और भी बहुत कुछ.

क्रिकेट न्यूज़:
अब पाइए क्रिकेट से जुड़ी हर वो बात जो आप जानना चाहते हैं, जैसे – लाइव स्कोर, मैच शेड्यूल, क्रिकेट फील्ड और फील्ड से बाहर की खबरें, स्कोर अपडेट, एक्सपर्ट की राय…साथ ही और भी बहुत कुछ. क्रिकेट के साथ ही पाइए फुटबॉल, हॉकी, टेनिस आदि अन्य कई खेलों की भी लेटेस्ट खबरें.दैनिक जागरण

टेक ज्ञान:
टेक्नोलॉजी और गैजेट की दुनिया से लेटेस्ट रिव्यूज़, लेटेस्ट स्मार्टफोन फीचर्स, प्राइस कम्पेरिज़न, ऐप रिव्यूज़, लैपटॉप आदि अन्य लेटेस्ट टेक अपडेट्स.

बिजनेस और दुनिया की खबरें:
भारतीय शेयर बाजार और दुनिया के अन्य बड़े स्टॉक एक्सचेंजों से लाइव और ताजा अपडेट्स. साथ ही पढ़िए दुनिया भर से महत्वपूर्ण लेटेस्ट खबरें.

वायरल और ट्रेंडिंग खबरें:
और भी खबरें जो आप चाहेंगे पढ़ना, जैसे – वायरल और ट्रेंडिंग स्टोरीज, जरा हट के, गरमा-गरम और अन्य मजेदार खबरें.

ऐप के मुख्य फीचर्स:

• आसान और यूज़र-फ्रेंडली कैटेगरी सेलेक्शन.
• पढ़ें 37 से भी ज्यादा स्थानों से प्रकाशित ई-पेपर और पाएं लेटेस्ट यूपी समाचार, बिहार समाचार, दिल्ली-एनसीआर समाचार, पंजाब समाचार, हरियाणा समाचार, उत्तराखंड समाचार.
• एक ही ऐप से हिंदी और अंग्रेजी (जागरण पोस्ट) दोनों भाषाओँ में पढ़ने की सुविधा.
• पाइए अनलिमिटेड सामान्य ज्ञान और करेंट अफेयर्स क्विज.
• प्रतियोगी परीक्षाओं और सरकारी नौकरी के साक्षात्कार की तैयारी करने की सुविधा.
• सेहत एवं देखभाल: स्वस्थ जीवनशैली, वजन घटाने के तरीके, पालन-पोषण, गर्भावस्था और ऐसे ही कई विषयों पर पाइए विस्तृत जानकारी.
• अपनी मनपसंद हिंदी खबरों को फेसबुक, व्हाट्सऐप, ट्विटर जैसे अन्य सोशल मीडिया चैनल्स पर या ई-मेल के जरिए करें शेयर.
• स्लो नेटवर्क कनेक्शन पर भी आसान और तेज.
• लेटेस्ट खबरों के साथ पाइए वीडियो, ऑडियो पॉडकास्ट (कमिंग सून) और अन्य कई फीचर्स.

डाउनलोड करें बेस्ट हिंदी न्यूज़ ऐप और लेटेस्ट खबरों के साथ रहें अपडेटेड.

दैनिक जागरण wiki

दैनिक जागरण उत्तर भारत का सर्वाधिक लोकप्रिय समाचारपत्र है। पिछले कई वर्षोँ से यह भारत में सर्वाधिक प्रसार संख्या वाला समाचार-पत्र बन गया है। यह समाचारपत्र विश्व का सर्वाधिक पढ़ा जाने वाला दैनिक है। इस बात की पुष्टि विश्व समाचारपत्र संघ (वैन) द्वारा की गई है। वर्ष 2008 में बीबीसी और रॉयटर्स की नामावली के अनुसार यह प्रतिवेदित किया गया कि यह भारत में समाचारों का सबसे विश्वसनीय स्रोत दैनिक जागरण है।

दैनिक जागरण को 1942 में शुरू किया गया था। इसका श्रेय आक्रामक स्वतन्त्रता सेनानी श्री पूरनचन्द्र गुप्ता को जाता है। 1942 का वर्ष भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम का बहुत महत्वपूर्ण वर्ष था जब भारत में अंग्रेज़ों की दासता से मुक्त होने के लिए संघर्ष अपने चरम पर था। भारत छोड़ो आंदोलन इस संघर्ष का एक महत्वपूर्ण पड़ाव था। ऐसे निर्णायक मोड़ पर दैनिक जागरण को इसके संस्थापक स्वर्गीय पूरनचन्द्र गुप्ता द्वारा जारी किया गया। इस दृष्टि के साथ कि अखबार जन-समूह के मुक्त स्वर को प्रतिबिम्बित कर सके। प्रथम संस्करण 1942 में झांसी से जारी किया गया। 1947 में इसका मुख्यालय झाँसी से कानपुर ले जाया गया। पूरनचन्द्र गुप्ता कभी भी अपने समाचारपत्र को संभ्रान्त बनाने की अपनी इच्छाशक्ति से नहीं डिगे।